Wednesday, June 22, 2016

छी सलमान! हद है भाई जान


डियर सलमान तुम्हारे प्रशंसक तुम्हें भाईजान ही बुलाते हैं। तुम अपना धर्म भी उसी भाई की तरह निभाते हो। तो ऐसी क्या मजबूरी हो गई कि तुम ने भरी महफिल में अपने देश की बहनों के लिए इतना सबकुछ कह दिया। क्या जरूरत पड़ गई की रेप जैसे सेंसेटिव बात को पहलवानों को उठाने में पड़ने वाली मेहनत से जोड़ दिया। रेप के बाद के हालातों को कितने भद्दे तरीके से तुमने खुद के लंगड़ा कर चलने जैसी बातों से को-रिलेट कर दिया। तुमने हद कर दी सलमान तुमसे यह उम्मीद नहीं थी।

यह उम्मीद इसीलिए नहीं थी कि तुमने चंद पीआर ऐजेंसी की स्क्रीपेटेड बातों को जानबूझ कर इस अंदाज में कहा कि ताकि तुम्हारी बातें भी उसी कंट्रोवर्सियल पब्लिीसिटी का अंग बन जाए, जिनसे इन दिनों पूरी फिल्म इंडस्ट्री ग्रसित है। सलमान जैसे स्टार भाईजान को भी इस तरह की गंदी पब्लिीसिटी का हिस्सा बनना पड़ सकता है, यह सोच कर भी हैरानी होती है। भाई का नाम ही काफी रहता है किसी फिल्म से जुड़ने में। ऐसे में फिल्म सुलतान में तो तुम पूरी तरह मौजूद हो। तुम्हारी फिल्मों को तो रिलीज के दो दिन पहले भी अनाउंस कर दिया जाए तब भी तुम्हारी फिल्म  सो-दो सौ करोड़ का तो बिजनेस कर ही लेगी। फिर भी तुमने बैड पब्लिीसिटी को क्यों चुन लिया? यह फिल्म समीक्षकों के लिए रिसर्च का सब्जेक्ट भी बन सकता है।

भाईजान कहीं तुम्हें यह तो नहीं लग रहा है कि उम्र के 50वें पड़ाव पर तुम्हें रोमांस करते कौन देखेगा या फिर कहीं तुम भी बॉक्स आॅफिस रिपोर्टफोबिया से पीड़ित तो नहीं हो गए हो। भाई तुम्हें इस बात की चिंता करने की बिल्कुल जरूरत नहीं है। तुम आज भी उम्र के 50वें पड़ाव में भी उतने ही हैंडसम और गुडलुकिंग हो, जितने मैंने प्यार किया और सनम बेवफा के वक्त थे। तुम पर अब भी लड़कियां उसी तरह फिदा हैं जितनी कबूतर उड़ाते वक्त थीं। बताने की जरूरत नहीं कि तुम अगर सार्वजनिक स्थल पर नजर आते हो तो कैसे लड़कियां पागल हो जाती हैं। तुम्हारी सिर्फ एक झलक पाने और तुम्हें छू भर लेने से उन्हें जो सुकून मिलता है वह शायद कहीं और नहीं मिलेगा।
इतना स्टारडम होने के बावजूद तुमने एक टुच्चे प्रमोशन के लिए अपनी चाहने वाली लड़कियों के लिए इतनी भद्दी बातें कर दीं। मैं पर्सनली मानता हूं कि तुम्हें भी अपनी बातों से जरूर दुख पहुंचा होगा कि तुमने क्या सब बोल दिया। पर इतने समझदार तो तुम हो ही कि स्क्रीप्टेड डायलॉक में भी सावधानी बरत सकते हो।
जब तुम अपने जरा से अपमान के लिए अरजीत सिंह जैसे सिंगर को सबक सिखा सकते हो, तो तुम यह क्यों नहीं सोच रहे हो कि महिलाएं अपने इतने बुरे अपमान के लिए तुम्हें क्या-क्या नहीं सिखा सकती हैं।

न-न तुम डरो मत। तुम्हें डरने की जरूरत नहीं है। तुमने जो कहा उसे तुम्हारी फैंस जल्द भी भूल जाएंगी और सुल्तान को उसी रूप में पसंद करेंगी। मैं तुम्हारा जबरा फैन हूं इसीलिए मुझे बहुत बुरा लगा। भाईजान तुम्हें इससे पहले कभी फिल्म प्रमोशन के लिए इतनी ओछी हरकत करते नहीं देखा। बीइंग ह्यूमन का टी-शर्ट पहनकर तुम दिल से अच्छा काम भी करते हो, इसमें कोई शक नहीं। पर तुमसे इतनी गुजारिश जरूर है कि कभी अपने स्टारडम को कम नहीं आंकना। वह हमेशा बरकरार है और रहेगा।

और हां भाईजान फिल्म प्रमोशन के लिए इस तरह की टुच्ची बातों से दूर जरूर रहना। तुम्हारे चाहने वालों का दिल बहुत बड़ा है, हो सके तो एक बार अपने चाहने वालों से जरूर माफी मांग लेना। क्योंकि रेप का दर्द उनसे जरूर पूछो जिन्होंने इसे झेला है। दस पहलवानों को उठाने का दर्द तो चंद रुपयों की मालिश से दूर हो जाता है, पर रेप का दर्द ताउम्र नहीं जाता है।
विथ लव
तुम्हारा जबरावाला फैन

Post a Comment